लंदन, 28 अगस्त (रायटर) ईरान पर अमेरिकी आर्थिक प्रतिबंधाें के बाद उपजे हालाताें तथा इस संकट से देश को बाहर निकालने के प्रयासों संबंधी सवालों का जवाब देने के लिए राष्ट्रपति हसन रोहानी ने मंगलवार को संसद में आकर अपनी बात रखी।

यह पहला मौका है जब संसद ने श्री रोहानी को संसद में पेश होने के लिए कहा है क्याेंकि संसद पर कट्टरवादी विपक्ष का जोरदार दबाव है । अमेरिकी प्रतिबंधों के बाद देश के बिगड़ते आर्थिक हालातों तथा कठिनाईयों को देखते हुए उनकी कैबिनेट में फेरबदल की बात भी कही जा रही है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सांसद श्री रोहानी से देश की मुद्रा रियाल में गिरावट, बढ़ती बेरोजगारी जैसे विषयों को सुलझाने के लिए उनकी राय जानना चाहते हैं। अप्रैल माह से अब तक रियाल की कीमत में 50 प्रतिशत की गिरावट आ चुकी है।

जितेन्द्र, रायटर