वाशिंगटन 29 अगस्त (रायटर) अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुगल, फेसबुक और ट्विटर को दूसरी सोशल मीडिया कंपनियों पर राजनीतिक पक्षपात का आरोप लगाते हुए उन्हें चेतावनी दी है।

श्री ट्रंप ने मंगलवार को व्हाइट हाऊस में कहा कि गुगल उनके साफ सुथरे मीडिया कवरेज को जगह नहीं देता जबकि उनके खिलाफ नकारात्मक लेखों और विचारों को प्रचारित करता है। इस तरह से काम करना गैर कानूनी है।

गुगल और दूसरे सोशल मीडिया माध्यम क्या कर रहे हैं इस अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। ट्विटर, फेसबुक पर किस तरह पक्षपातपूर्ण ढंग से काम कर रहा है। इनको सावधान रहने की आवश्यकता है क्योंकि आप इस तरह से काम नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि गुगल, ट्विटर और फेसबुक बहुत ही गलत तरीके से काम कर रहे हैं। इनको चेतने की आवश्यकता है। आबादी के बड़े हिस्से के प्रति उनका रवैया ठीक नहीं है।

श्री ट्रंप के इस आरोप के बाद गुगल ने बयान जारी कर किसी भी तरह के राजनीतिक पक्षपात के आरोप को खारिज कर दिया है। गुगल ने कहा कि उसका सर्च इंजन किसी भी राजनीतिक एजेंडे के लिए इस्तेमाल नहीं होता। हम किसी भी राजनीतिक विचारधारा के प्रति पक्षपातपूर्ण नहीं हैं। फेसबुक और ट्विटर की ओर से हालांकि इस पर अभी तक कोई बयान नहीं आया है।

श्री ट्रंप के आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलो ने संवाददाताओं से कहा कि व्हाइट हाउस गुगल की प्रशासनिक जांच करने पर विचार कर रहा है। प्रशासन गुगल की कुछ जांच और विश्लेषण करेगा। उन्होंने हालांकि इसकी विस्तृत जानकारी नहीं दी।

दिनेश, रायटर