बर्लिन 28 अगस्त (रायटर) जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फोन पर हुई बातचीत में सीरिया संकट विशेषकर इदलिब क्षेत्र के आसपास की मानवीय स्थिति पर चिंता जाहिर की।

जर्मनी की चांसलर और अमेरिकी राष्ट्रपति कार्यालय ने सोमवार को यह जानकारी दी।

व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने कहा, “दोनों नेताओं ने इदलिब प्रांत में मानवीय संकट को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय कार्रवाई की आवश्यकता पर जोर दिया।”

जर्मनी की चांसलर के प्रवक्ता स्टेफन सेबर्ट ने कहा, “रूस से मांग की गयी है कि वह सीरिया सरकार के साथ नरमी से पेश आए और तनाव को और अधिक बढ़ने से रोके।”

सेबर्ट ने कहा कि दोनों नेताओं ने यूक्रेन, पश्चिमी बाल्कन क्षेत्र और व्यापार के मुद्दों पर भी बातचीत की। दोनों नेताओं ने पूर्वी यूक्रेन में जारी संघर्ष का समाधान करने के नये प्रयासों पर जोर देने की बात कही।

रूस समर्थित सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद सरकार का कहना है कि उसका लक्ष्य इदलिब के विद्रोहियों के कब्जे वाले क्षेत्रों को मुक्त करवाना है। यहां आम नागरिक और शरणार्थियों के अलावा दूसरे क्षेत्रों से विस्थापित विद्रोही तथा जिहादी ताकतें भी सक्रिय हैं।