वाशिंगटन 06 अगस्त (रायटर) अमेरिका ने वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकाेलस मादुरो पर हुए ड्रोन हमले में किसी भी रूप में उसका हाथ होने से इंकार किया है।
अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने रविवार को यह बात कही। श्री बोल्टन ने फॉक्स न्यूज संडे को दिये साक्षात्कार में कहा, “निस्संदेह मैं यह कर सकता हूं कि इसके पीछे अमेरिका का हाथ नहीं है।”
श्री मादुरो पर शनिवार को एक सैन्य कार्यक्रम के दौरान ड्रोन से हमला करने की कोशिश की गयी थी। वेनेजुएला सरकार ने इसे श्री मादुरो की हत्या का असफल करार देते हुए इसके लिए कोलंबिया और अमेरिका को जिम्मेदार ठहराया था।
इस विस्फोट के बाद श्री मादुरो ने कहा “विस्फोटकों से लदा वह ड्रोन मेरी तरफ ही आ रहा था लेकिन आप लोगों के प्यार ने एक ढाल की तरह काम किया और मुझे पूरा विश्वास है कि मैं अभी और ज्यादा समय तक आपके बीच रहूंगा।” हमले की शुरूआती जांच में पता चला है कि यह षड़यंत्र कोलंबिया और अमेरिका की तरफ से रचा गया। इस मामले में कुछ अपराधियाें को गिरफ्तार कर लिया गया है।
वेनेजुएला के सूचना और प्रसारण मंत्री जॉर्ज रोड्रिगज के अनुसार कराकस में एक सैन्य कार्यक्रम के दौरान विस्फोटकों से लदा एक ड्रोन फट गया जिसमें सात सुरक्षाकर्मी भी घायल हो गए। एक अनजान से संगठन “नेशनल मूवमेंट आफॅ सोल्जर्स इन टी शर्ट” ने हमले की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि संंगठन ने हमले के लिए दो ड्रोन विमानों का इस्तेमाल किया लेकिन सुरक्षाकर्मियों की नजरों में आने से वह अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए।